दुबई में रहने वाले एक भारतीय को फेसबुक पर सभी मुसलमानों को गाली देने और गंदा जानवर कहने पर गिरफ्तार कर लिया गया है।

दुबई में रहने वाले एक भारतीय को इस्लाम धर्म पर अभद्र टिप्पणी करने मुसलमानों को गाली देने हर एक जानवर से कंपेयर करने पर कंपनी में निकाल कर पुलिस के हवाले कर दिया है।
उसका नाम Rakesh B Kitturmath है।
अपनी कंपनी Emrill Services मैं एक अच्छे पोस्ट पर नौकरी कर रहे राकेश को आज अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ा है ऐसा कंपनी के CEO ने मीडिया को बताया है।
“हमने राकेश को कंपनी से निकाल बाहर किया है, जल्द ही उसे पुलिस के हवाले किया जाएगा, हमारे यहां नफ़रत फैलाने वाले के लिए बरदाश्त का कोई रास्ता नहीं है”
एक संस्था होते हुए हमारे यहां सभी धर्म के लोगों ने काम किया है, और हम हमेशा मिलजुल कर के त्योहारों को मनाते रहे हैं,हमारे यहां सोशल मीडिया के ताल्लुक से बहुत सख्त पॉलिसी हैं,चाहे वह सोशल मीडिया का इस्तेमाल ऑफिस में रहते हुए किए करें या बाहर रहते हुए, इसी वजह से हमने उसे बाहर का रास्ता दिखाया और जल्दी उसे दुबई पुलिस के हवाले भी करेंगे”
कंपनी Emrill Services के CEO स्टो्टार्ट हैरिसन ने गल्फ न्यूज से बातचीत करते हुए बताया।
राकेश ने सोशल मीडिया पर जो लिखा था उसे शेयर नहीं किया जा सकता, लेकिन वह नमाजियों के ताल्लुक से बहुत ही भद्दी एक गाली थी, कंपोस्ट वायरल हो गया और भारत समेत दुनियाभर से उसकी गिरफ्तारी की मांग होने लगी,
राकेश कर्नाटका के  Ranebennuri का रहने वाला है।
पिछले हफ्ते अपने सभी के रहने वाले मितेश सभी कंपनी ने इस्लाम का मजाक उड़ाने वाला कार्टून शेयर करने की वजह से निकाल करके पुलिस के हवाले कर दिया था।
मार्च 2020 में दुबई के एक होटल के बावर्ची को दिल्ली की छात्रा को रेप की धमकी देने की वजह से निकाल कर के बाहर किया गया था।
जनवरी 2020 में जयंत गोखले नाम के एक भारतीय ने केरला के रहने वाले अब्दुल्लाह को नौकरी मांगने पर शाहीन बाग़ प्रदर्शन में जाने का मशवरा देने पर पुलिस ने तलब किया था।
मार्च 2019 में ट्रांसगार्ड ग्रुप के सिक्योरिटी ऑफिसर को न्यूजीलैंड मस्जिद पर आतंकवादी हमले पर खुशी जताने की वजह से निकालकर के इंडिया भेज दिया गया था।
जून 2018 में आबू धाबी की एक कंपनी के सुपरवाइजर को केरला के चीफ मिनिस्टर को जान से मारने की धमकी देने के बाद कंपनी से निकाल दिया गया था।
जून 2018 में जेडब्ल्यू मैरियट होटल के बावर्ची अतुल को 4 को यह कहने पर निकाल दिया गया था कि इस्लाम धर्म में 2000 साल से हिंदुओं को परेशान कर रखा है।
अप्रैल 2017 में इंडियन जर्नलिस्ट राणा अय्यूब को फेसबुक पर गंदी गालियां देने की वजह से एक 33 साल के इंडियन को कंपनी से निकाल करके पहले फ्लाइट से भारत भेज दिया क्या था।

अमीरात मैं धर्म पर गलत टिप्पणी करने को लेकर के बहुत सख्त कानून 2015 से मौजूद है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here