हैदराबाद के रहने वाले बालाकृष्णा नक्का को दुबई की एक कंपनी मोरो हब डाटा सॉल्यूशंस कंपनी ने आज निकाल बाहर किया है।

 

बाला ने फेसबुक पर मुसलमानों के बारे में आपत्तिजनक पोस्ट किया था और इस्लाम धर्म पर भी कुछ सवाल उठाए थे। फेसबुक पर कुछ कार्टून वाला ने शेयर किए थे जिसमें सभी मुसलमानों को आत्मघाती हमलावर दिखाया गया था। इसके अलावा बाला के कई सारे पोस्ट से पता चल रहा था कि पूरे इलाके में मुसलमान ही कोरोनावायरस फैला रहे हैं।

पाला के पोस्ट वायरल हो जाने के बाद ट्विटर और फेसबुक पर काफी हंगामा हुआ, और थोड़ी ही देर में हजारों लोगों ने कंपनी को शिकायत भेज डाली, कंपनी ने शिकायत पर फौरी सुनवाई करते हुए अपनी रिक्रूटमेंट टीम को नोटिफाई कर दिया कि बाला को फौरन ही काम से निकाल दिया जाए।

कंपनी ने कहा कि हम किसी भी मजहब के बारे में और खासतौर से इस्लाम के बारे में किसी भी तरह की आपत्तिजनक टिप्पणी को बर्दाश्त नहीं कर सकते, हमारे ब्रांड की एक वैल्यू है और किसी को भी उसे खराब नहीं करने दिया जाएगा।

भारत में क्रोना वायरस के फैलने के लिए कुछ अराजक तत्वों द्वारा मुसलमानों को जिम्मेदार बताया जा रहा है, पिछले 10 दिनों में भारत की मीडिया ने भी इस्लामोफोबिया को बढ़ाने में बड़ा योगदान दिया है। मीडिया के बॉयकॉट की अपील ए हो रही हैं, कल पड़ोसी देश नेपाल में भी #RIPindianMedia ट्रेंड किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here